April 14, 2021

प्रयागराज : रोजगार मांगने बेरोजगार युवा सड़कों पर उतरे तो पुलिस ने भेज दिया जेल


प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रयागराज:

प्रयागराज में रोजगार मांगने बेरोजगार युवा सड़कों पर उतरे तो उनके तीन नेताओं पुलिस ने जेल भेज दिया. यूपी में कई जगहों पर बेरोजगार नौजवान रोजगार की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं. कल प्रयागराज में बेरोजगारों की भीड़ सड़कों पर उतरे. जब उन्होंने बेमियादी धरने का ऐलान किया तो जेल भेज दिए गए.

यह भी पढ़ें

प्रयागराज में बेरोजगारों की फौज सड़कों पर उतरी. युवा मंच के बैनर तले इनका आंदोलन 17 सितंबर को शुरू हुआ था. इनकी मंग है कि खाली पड़े पदों के लिए सरकार फौरन विज्ञापन दे और इन बेरोजगारों को रोजगार. पुलिस ने इन्हें बालसन चौराहे से किसी तरह हटाया.

युवा मंच के अनिल सिंह ने कहा, ”रोजगार के सवाल पर बालसन चौराहे पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन करना चाहते थे, अपनी मांगों को रेखना चाहते थे लेकिन ये सरकार और प्रशासन इतना अतातायी है कि हम लोगों को खड़े होने का टाइम नहीं दे रही है. हम लोगों को वहां अपनी बात को रखने का टाइम नहीं दे रहे हैं. हम लोग को वहां अपनी बात को रखने का टाइम नहीं दे रहे हैं.”

बेरोजगारों ने बाद में सिविल लाइन्स में सभा की. सभा काफी देर चली, लेकिन बाद में जब प्रदर्शनकारियों ने वहां बेमियादी धरना देने का ऐलान किया तो पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया. और बाद में तीन लोगों को गिरफ्तार किए गए.

एसपी सिटी दिनेश सिंह ने कहा, ”उसमें जो तमाम लड़के जो समझदार थे, जो इनके इस कहने पर आए थे कि हम ज्ञापन देने जा रहे हैं. आपने देखा होगा कि लगभग चार-पांच सौ की संख्या में लड़के चले गए. ये कुछ ही लोग थे जो अनावश्यक जिद किए हुए थे कि हम अंनतकाल तक बैठेंगे. उनको भी जब लास्ट में समझाया गया तो चले गए. जो लोग थे दो चार लोग उनको गिरफ्तार किए जा रहा है. आवश्यक वैधानिक कार्रवाई की जाएगी.”

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रयागराज के इस प्रदर्श, गिरफ्तारी की खबर ट्वीट कर कहा, ”वादा था हर साल 2 करोड़ रोजगार देंगे. यूपी में वादा था 5 साल में 70 लाख रोजगार देंगे. बेरोजगारी अपने चरम पर है. नेशनल सर्विस पोर्टल पर 1 करोड़ लोगों ने नौकरियां मांगी, मात्र 1.77 लाख लोगों को नौकरियां मिलीं. यूपी में युवा बोलता है #modi_job_do तब उस पर लाठी बरसाई जा रही है.”

 



Source link

Leave a Comment